HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma

Will you help us hit our goal?

HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma
30.1 C
Varanasi
Sunday, June 26, 2022

इंदौर में आरोपी दोस्त को बचाने के लिए युवती के साथ की नाम बदल कर शादी और इस्लाम में मतांतरण किया, जबरन गर्भपात कराया?

इंदौर (मध्य प्रदेश) में लव जिहाद का हैरान करने वाला मामला प्रकाश में आया है जिसमें आरोपी ने हिंदू पहचान बताकर युवती से विवाह किया, वो भी अपने आरोपी दोस्त को बचाने के लिए।

क्या है मामला?

बंबई बाजार के मोहम्मद वासिल पर एमआईजी थाना पुलिस ने शनिवार रात को विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

आरोप यह है कि मोहम्मद वासिल ने खुद का नाम महेश यादव  बताकर एक हिंदू युवती से मित्रता की और बाद में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। अलग अलग मंदिरों में हिंदू युवती को ले गया, मंगल सूत्र और माला पहनकर उसके साथ विवाह किया। थाना प्रभारी के अनुसार पीड़िता 24 वर्षीय युवती ,शाजापुर की रहने वाली है और वर्तमान में इन्दौर में श्रीनगर एक्सटेंशन में निवास करती है।

कैसे हुई थी युवती की आरोपी से पहचान?

चार साल पूर्व वह ग्राफिक डिजाइन का कोर्स करने इंदौर आई थी । वर्ष २०१८ में खजराना निवासी शाहबाज मुस्तिम खान ने उसके साथ दुष्कर्म किया था । युवती ने शाहबाज के विरुद्ध पलासिया थाने में केस दर्ज करवाया था। इसी अवधि में मोहम्मद वासिल युवती के संपर्क में आया था।

मोहम्मद वासिल ने खुद को महेश यादव के रुप में प्रस्तुत किया और युवती को विश्वास दिलाया कि वह हिंदू होने के नाते शाहबाज के विरुद्ध दर्ज प्रकरण में उसकी सहायता करेगा। आरोपी (वासिल) उसे कोर्ट व थाने ले जानें लगा । आरोपी ने युवती से नजदीकियां बढ़ाई और उसके उज्जैन के महाकाल मंदिर और हरसिद्धि मंदिर लेकर गया ।

वहां आरोपी मोहम्मद वासिल ने उसको माला पहनाई और वरमाला डालकर उसके साथ विवाह कर लिया।

मोहम्मद वासिल ने कुछ दिनो के बाद युवती को अपना असली परिचय दिया और बताया कि उसने यह सब अपने मित्र शाहबाज (जिसने पहले युवती के साथ दुष्कर्म किया था) उसको उस केस से निकालने के लिए किया।

इसके बाद मोहम्मद वासिल युवती को अपने मामा (मौलवी) रिजवान मंसूरी के यहां ले गया और वहीं उसने युवती के साथ निकाह किया और युवती का मतांतरण कर उसका नया नाम इनाया रख दिया।

युवती का आरोप है कि  पिछले वर्ष जब वह गर्भवती हुई थी तो वासिल के दूसरे मामा जियाउल रहमान उर्फ गोलू और पिता सईद अहमद ने छत्रीपुरा स्थित निजी अस्पताल में गर्भपात करवा दिया।  पीड़िता को दस दिन अस्पताल में रखा गया लेकिन पर्चे में 1 दिन भर्ती बताया ,उसका गर्भपात करवाया और पर्ची में डेंगू का उपचार लिखवाया। पीड़िता का आरोप है कि पूरे षड्यंत्र में जियाउल रहमान, रिजवान मंसूरी, सईद अहमद भी सम्मलित है ।

आरोपित सोने की हेरा फेरी में भी लिप्त हैं। षड्यंत्र के अंतर्गत वासिल को गायब कर दिया गया। २१ दिन पूर्व अजमेर का बोल कर गया था, परिवार के लोगो ने उसे ढूंढा नहीं । पीड़िता ने गुमशुदगी दर्ज करवाई। थाना प्रभारी के अनुसार एट्रोसिटी एक्ट अवैध गर्भपात और धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम के उल्लंघन के मामले में केस दर्ज कर लिया गया है, जिन लोगों पर आरोप लगाए गए हैं उन्हें भी आरोपित बनाया जाएगा।

Subscribe to our channels on Telegram &  YouTube. Follow us on Twitter and Facebook

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

Sign up to receive HinduPost content in your inbox

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.