HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma

Will you help us hit our goal?

HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma
20.1 C
Varanasi
Thursday, December 2, 2021

कश्मीर में पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाले विद्यार्थियों का सच बताने वाली हिन्दू लड़की को मिल रही जिहादी धमकियां

टी-20 विश्वकप में पाकिस्तान पर भारत की जीत के कई वीडियो सामने आए थे और उनमें एक था SKIMS अर्थात शेरे कश्मीर इंस्टीटयूट ऑफ मेडिकल साइंस का जो सौरा में स्थित है और जहाँ पर मेडिकल स्टूडेंट्स ने पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया था. अब उनके मामले में कल जम्मू और कश्मीर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की.

पर अब इस मामले में जिहादियों के निशाने पर एक हिन्दू डोगरा लड़की आ गयी है, और उसे खुलकर धमकियाँ मिलनी शुरू हो गयी हैं. खुद को कश्मीर रिपोर्ट में पत्रकार और कश्मीर संघर्ष को कवर करने वाले कथित पत्रकार अब्दुल्ला गाजी ने ट्वीट करते हुए उसे धमकी दी. उसने ट्वीट किया कि

अर्थात पुलिस मुखबिर और SKIMS एफआईआर और यूएपीए के पीछे की सबसे बड़ी दोषी अनन्या जामवाल है, और वह आरएसएस की सदस्य और बाहरी डोगरा है, जो इस समय कॉलेज से मेडिकल कोर्स कर रही है और इस संघं ने शेष आरएसएस कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर स्थानीय कश्मीरी विद्यार्थियों के खिलाफ मोर्चा खोला और जेल जाने की धमकी थे. और वह अपने ट्विटर प्रोफाइल में खुलकर स्थाने कश्मीरी लड़की को धमकाती दिखाई दे रही है.

इस तरह की खुलेआम धमकी, एक हिन्दू लड़की को मात्र इसीलिए दी जा रही है क्योंकि वह हिन्दू है और वह अपने हिन्दू पहचान वाले देश से प्यार करती है, जबकि उस पर उस आरएसएस का सदस्य होने का आरोप लगाया जा रहा है, जो कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक रहने वालों को एक ही डीएनए का मानते हुए, बिगड़े हुए डीएनए पर कड़े कदम उठाने से हिचकता है.

इस विषय में भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने अनन्या को मिली धमकी पर संज्ञान लिया है और ट्वीट किया है कि यह खुले आम धमकी है

परन्तु अभी परसों ही गृह मंत्री अमित शाह कश्मीर की पहचान सूफीवाद को बता रहे थे और कह रहे थे कि कश्मीर से पूरे भारत में सूफीवाद का उपहार पूरे देश को मिला. और सूफीवाद में विकास और प्रगति की सम्भावनाएं हैं.

यह भी बहुत रोचक है कि जिस समय भारत के गृह मंत्री कश्मीर में थे, उसी समय कश्मीरी छात्र-छात्राओं का यह सूफीवाद पूरी दुनिया ने देखा कि कैसे उन्होंने पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया. चाहे सूफी हों या अब्दुल्ला गाजी जैसे आधुनिक गाजी, सभी का उद्देश्य और लक्ष्य एक ही है, कि कैसे इस दुनिया को काफिरों से मुक्त किया जाए!

अनन्या जामवाल के हृदय में अपने देश भारत के प्रति प्रेम हैं! वह सांस्कृतिक या भौगोलिक हिन्दू न होकर धार्मिक हिन्दू है, क्योंकि यह हिन्दू धर्म ही है, जो जननी और मातृभूमि को स्वर्ग से भी बढ़कर बताता है. नहीं तो इस्लाम में तो जन्नत और जन्नत में मिलने वाली हूरों के कारण ही काफिरों से मुक्त कराने की बात है. हाल ही में पाकिस्तान में एक लड़की को हूर के रूप में दिखाया भी था कि अगर जिहाद करते हुए इंसान मरता है तो वह उस जन्नत में जाएगा जहाँ इतनी सुन्दर हूरें होंगी.

परन्तु अनन्या जामवाल जैसी लडकियां अपनी जान हथेली पर लेकर अपने देश के प्रति समर्पित होती हैं क्योंकि उनके धर्म में प्रभु श्री राम जैसे नायक हैं, जो अपनी मातृभूमि के प्रति समर्पित हैं. अनन्या धर्म के साथ है, इसीलिए वह उनके निशाने पर है. अनन्या जामवाल ने इन सभी धमकियों से न डरते हुए ट्वीट कर रखा है:

और उसने कहा कि SKIMS भारत में है और भारतीयों का है. SKIMS उस कश्मीर में है, जिसका इतिहास कश्यप ऋषि से है. जिसका इतिहास किसी सूफीवाद से आरम्भ नहीं है. कश्यप ऋषि का कश्मीर हिन्दुओं में साहस भरता है और सूफीवाद वाला कश्मीर हिन्दुओं को इस प्रकार प्रताड़ित करता है.  

इससे पहले सामाजिक कार्यकर्ता डॉ. मोनिका ने उस कॉलेज का वीडियो साझा करते हुए प्रश्न किया था कि पाकिस्तानी जीत का जश्न वह विद्यार्थी मना रहे हैं, जो भारत सरकार के कॉलेज में पढ़ रहे हैं:

और अब यही डॉ मोनिका भी इन जिहादी तत्वों के निशाने पर आ गयी हैं, और उन्होंने जो यूट्यूब पर पाकिस्तानी करतूतों का वीडियो जारी किया था, उसमें से एक हिस्सा काटकर कथित पत्रकार जो अनन्या को धमकी दे रहा है और जो अमित शाह के आने पर हमले का जश्न मना रहा है, साझा कर रहा है. इस पर डॉ. मोनिका ने भी पूरा वीडियो साझा करते हुए उसकी धमकी का उत्तर दिया:

और सूफीवाद वाला कश्मीर, गृह मंत्री अमित शाह का स्वागत काकापोरा पुलिस स्टेशन में ग्रेनेड हमले के साथ करता है. और उसे पुलवामा में अमित शाह के लिए उपहार बताता है:

देखना होगा कि कश्मीर में अनन्या जामवाल को मिलने वाली धमकियों पर पुलिस क्या कदम उठाती है!

यूजर्स ने भी गृह मंत्री से अनुरोध किया कि वह इस मामले को देखें:

परन्तु प्रश्न यही उठता है कि भारत में रहकर भारत को प्रेम करने वालों को ऐसी धमकियां क्यों मिल रही हैं?

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles

Sign up to receive HinduPost content in your inbox

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.