HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma

Will you help us hit our goal?

HinduPost is the voice of Hindus. Support us. Protect Dharma
28.1 C
Varanasi
Friday, July 1, 2022

AUTHOR NAME

Rajesh Pathak

34 POSTS
0 COMMENTS
Writing articles for the last 25 years. Hitvada, Free Press Journal, Organiser, Hans India, Central Chronicle, Uday India, Swadesh, Navbharat and now HinduPost are the news outlets where my articles have been published.

‘क्रिप्टो-क्रिस्चियन’ का जाल, परन्तु हिन्दू समाज नहीं परेशान!

  पंडित जवाहर लाल नेहरू ने   ग्लिम्प्सेस ऑफ़ वर्ल्ड हिस्ट्री में लिखा था कि यूरोप ने पहली बार एशिया में जिन जगहों  पर अपनी...

योग दिवस (21 जून) पर विशेष- सदैव शांति और अतीव आनंद की अवस्था  योग- विज्ञान से सुलभ’

                                     कुछ महीने  पूर्व  जाने-माने  मानस अनुसंधानकर्ता  टिम वाइटफील्ड की एक रिपोर्ट मीडिया की सुर्खियाँ बनी थी । उनका कहना है कि  ‘एग्ज़ीक्यूटिव फंक्शन’ ...

सौर-परियोजना और बैटरी-उत्पाद में विश्व स्तरीय उपलब्धि

इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में सेमीकंडक्टर का अपना स्थान है। जर्मनी की नेक्स्वेफ़ उन कम्पनीयों में से है जो कि सेमीकंडक्टर में इस्तेमाल होने वाले मोनोक्रिस्टलाइन सिलिकॉन...

खुद पर बीती तो समझे

जहां तीन दशकों तक वामपंथीयों का शासन रहा, ऐसे पश्चिम बंगाल का किस्सा बड़ा  दिलचस्प है| प्रदेश के पूर्व और पश्चिम मिदनापुर, नदिया, उत्तरी...

कांशीराम को सीआईऐ का एजेंट तक बता गए थे राजीव गाँधी

राहुल गाँधी के मायावती को लेकर दिए गए बयान पर पलट वार करते हुए उनकी (मायावती) प्रतिक्रिया इस रूप में आयी है कि राजीव गाँधी...

‘कश्मीर फाइल्स ’ और तमिलनाडु

विशेष रूप से दक्षिण भारत में मजहबी कट्टरपंथी गतिविधीयों के लिए जानी  जानेवाली तौहीद जमात (टीऐनटीजे) ने फिर सुर्खियां बटोरी हैं| उसने उन जजों को...

यूनिवर्सिटी स्तर पर बाइबिल  पढ़ाने वाले थे चरणजीत सिंह चन्नी!

‘जब किसी को कहीं प्यार नहीं मिलेगा, तो वो क्या करेगा’  पंजाब के  पूर्व सीएम चरणजीत सिंह ‘ चन्नी’ का चुनावों के ठीक बीच ...

माता जीजाबाई – जिन्होंने जेहादी हमलावरों के पतन का सूत्रपात किया

नब्बे के दशक को इस बात के लिए भी याद किया जा सकता है कि इस दौर में भारत को  विश्व-स्तरीय सुन्दरीयाँ  मिली l...

अपने घर में वे विदेशी थे

19 वीं सदी में देश में अंग्रेजों के द्वारा शुरू की गयी  शिक्षा का  परिणाम क्या हुआ उस पर रामधारी सिंह दिनकर कहते हैं...

‘अमेरिका को भारतीय प्रतिभाओं से बहुत फायदा हुआ है’- एलन मस्क

‘हे अग्नि! हमारी जीवन यात्रा उत्तम चले उसके लिए उत्तम ज्ञान से युक्त, समस्त आयुपर्यंत पूजने योग्य तथा हमारे सुख के लिए कारणीभूत होने...

Latest news